अब सर्दियों के मौसम की तैयारी करें – आयुर्वेदिक तरीके से

रक्तवाहिनियों में सिकुड़न (contraction in blood vessel) –

सर्दियों के मौसम में रक्तवाहिकाएं (blood vessel) शरीर की गर्मी को संरक्षित (conserve) करने के प्रयास से सिकुड़ जाती हैं। इसके अलावा सर्दियों में आमतौर पर पसीना भी नही निकलता। इस कारण शरीर में नमक संचित हो जाता है, जिसके कारण रक्तचाप (blood pressure) बढ़ जाता है और मरीज को सांस लेने में दिक्कत होती है।

बदलते हुए मौसम में अक्सर लोग बीमार पड़ते है। खासकर जब सर्दी का मौसम आता है। सर्दी के मौसम में ज्यादा बीमारी फैलने की आशंका रहती है। इसलिए हमें शुरू से ही इसकी तैयारी कर के रखनी चाहिए। हमारी भारतीय चिकित्सा पदत्ति आयुर्वेद में अनेक ऐसे उपाय बताये गए हैं जिससे हम अपने आपको अनेक बीमारियां होने से पहले ही बचा सकते है। इस जानकारी को आगे भी बढ़ाए ताकि ज्यादा से ज्यादा लोगो का लाभ हो। सर्दियों में निमोनिया तथा अस्थमा जैसी बीमारियां आम बात है । आयुर्वेदानुसार निमोनिया के बारे में अधिक जानकारी के लिए आप इस लिंक और जा सकते है ( निमोनिया (pneumonia) को जड़ से खत्म करने का राम बाण उपाय ) तथा अस्थमा के इलाज के बारे में जानने के लिए आप आगे दिए गए लिंक और जा सकते है । ( अस्थमा (Asthma) का जड़ से इलाज; अब घरेलु नुख्सों से ) अपने महत्वपूर्ण सुझाव हमे कमेंट बॉक्स में लिखना न भूलें।

[addthis tool="addthis_inline_share_toolbox_l63x"]

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *